uttarkashi
उत्‍तराखण्‍ड

uttarkashi news चिन्यालीसौड़ में शिव जयंती का उत्सव, ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय ने लोगों को शिव की महिमा और सनातन धर्म का बोध कराया

 

संवाददाता सुरेंद्र पाल सिंह (उत्तरकाशी)

उत्तरकाशी ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय ने चिन्यालीसौड़ में 88वीं शिव जयंती का समारोह आयोजित किया, जिसमें आम लोगों ने भाग लिया। इस समारोह का उद्देश्य था लोगों को शिव की महिमा और सनातन धर्म की गरिमा का बोध कराना, और उन्हें अपने धर्म को बचाने और अपने आप को पहचानने की प्रेरणा देना।

समारोह का शुभारंभ श्रीमती मंजीरा देवी, शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान के चेयरमैन डॉक्टर भगवन नौटियाल द्वारा दीप प्रज्वलित करके किया गया। उन्होंने अपने विचारों में कहा कि शिव ही सर्वशक्तिमान परमात्मा है, जो हमें अपने आत्मा का ज्ञान देता है, और हमें अपनी बुराइयों से मुक्त करता है। उन्होंने कहा कि सनातन धर्म आदि और अनंत काल से चला आ रहा है, और इस पर हमें गर्व होना चाहिए। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे शिव की उपासना करें, और अपने धर्म की रक्षा करें।

इसके बाद, राष्ट्रीय हिंदू संघ के प्रदेश अध्यक्ष सुरेंद्र परमार ने भी अपने विचारों को प्रकट किया। उन्होंने कहा कि ब्रह्माकुमारी संस्थान मानव उत्थान के लिए निरंतर अग्रसर है जिसके लिए उन्होंने संस्थान को बधाई एवं शुभकामनाएं दी

ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय संस्थान गढ़वाल के मुख्य डायरेक्टर आदरणीय भ्राता श्री ने भी अपने विचारों से सभी को प्रभावित किया। उन्होंने कहा कि शिव ही हमें सत्य, शांति, प्रेम, अनंद और पवित्रता का ज्ञान देता है। उन्होंने कहा कि शिव की जयंती का पर्व हमें अपने आत्मा को शिव के समान बनाने का अवसर देता है। उन्होंने लोगों को रोजाना योग करने, और अपने मन को शुद्ध और शांत रखने की सलाह दी।

ब्रह्माकुमारी संस्थान द्वारा रंगारंग कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया था समारोह में सभी गणमान्य व्यक्ति एवं प्रधानाचार्य और शिक्षक भी मौजूद थे।

uttarkashi

यह भी पढें:uttarkashi news यूकोस्ट द्वारा प्रायोजित आई पी आर कार्यशाला में पिट्स बी.एड. कॉलेज का सक्रिय भागीदारी

समारोह के अंत में, ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय द्वारा लोगों को शिव की महिमा और सनातन धर्म की गरिमा का बोध कराया, और उन्हें अपने धर्म को बचाने और अपने आप को पहचानने की प्रेरणा दी। ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय द्वारा नशा मुक्त भारत अभियान भी चलाया गया, आयोजन में सभी लोगों ने शपथ ली कि वह अपने जीवन में कभी भी नशे का सेवन नहीं करेंगे।

uttarkashi

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *