uttarkashi
उत्तरकाशी उत्‍तराखण्‍ड न्यूज़

uttarkashi news मनरेगा मेटो का नया नेतृत्व, प्रदीप सिंह रावत बने अध्यक्ष

संवाददाता सुरेंद्र पाल सिंह (उत्तरकाशी)

उत्तरकाशी डुंडा में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के तहत काम करने वाले मेटो (महिला एवं तरुण उद्यमी) की बैठक आयोजित की गई। इस बैठक में मनरेगा मेटो के विभिन्न पदों पर नए नेतृत्व का चयन किया गया

बैठक में उपस्थित ग्राम प्रधान, मनरेगा मेटो के सदस्य और अन्य अधिकारी ने सर्व सहमति से अध्यक्ष पद पर प्रदीप सिंह रावत, कोषाध्यक्ष विकेश सिंह पवार, सचिव उषा नेगी, व्यवस्थापक सत्येंद्र सिंह नेगी, उपाध्यक्ष बृजमोहन, मीडिया प्रभारी गौरव मटूरा, सह प्रभारी मीना राणा, इत्यादि पदों पर मनोनीत किए।

बैठक में मनरेगा के कार्यक्रमों की समीक्षा की गई और आगामी वर्ष के लिए योजनाओं का निर्माण किया गया। नए नेतृत्व ने मनरेगा के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार और विकास को बढ़ावा देने का संकल्प लिया। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के अधिकारों का पालन करेंगे और गांव के लोगों को उनका हक दिलाने के लिए प्रयास करेंगे।

 

मनरेगा मेटो के अध्यक्ष प्रदीप सिंह रावत ने बताया कि उनका उद्देश्य गांव के लोगों को आत्मनिर्भर बनाना है। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के तहत गांव में जल संरक्षण, खेती, पशुपालन, शिक्षा, स्वास्थ्य, आदि के क्षेत्रों में कार्य करेंगे। उन्होंने गांव के लोगों से अपील की कि वे मनरेगा के कार्यों में भाग लें और अपनी आय बढ़ाएं।

मनरेगा मेटो के कोषाध्यक्ष विकेश सिंह पवार ने कहा कि वे मनरेगा के खर्चों का लेखा-जोखा रखेंगे और गांव के लोगों को उनकी मजदूरी का समय पर भुगतान करेंगे। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों की गुणवत्ता का भी ध्यान रखेंगे और गांव के विकास के लिए नवीन तकनीकों का उपयोग करेंगे।

मनरेगा मेटो के सचिव उषा नेगी ने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों की जानकारी गांव के लोगों तक पहुंचाएंगी और उनकी समस्याओं का समाधान करेंगी। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए प्रेरित करेंगी और उन्हें उनके अधिकारों के बारे में बताएंगी।

यह भी पढें: बीजेपी के गांव चलो अभियान में लोकेंद्र सिंह बिष्ट ने गंगोत्री विधानसभा के दो बूथों का किया दौरा

मनरेगा मेटो के व्यवस्थापक सत्येंद्र सिंह नेगी ने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों का नियोजन, आयोजन और क्रियान्वयन करेंगे। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों को गांव की जरूरतों के अनुसार चुनेंगे और उनकी निगरानी करेंगे।

मनरेगा मेटो के उपाध्यक्ष बृजमोहन ने कहा कि वे मनरेगा मेटो के अध्यक्ष के साथ मिलकर गांव के लोगों की आवाज़ को सुनेंगे और उनकी मांगों को पूरा करने के लिए कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के तहत गांव में जलवायु परिवर्तन के प्रति संवेदनशील कार्यों को प्राथमिकता देंगे और गांव को स्वच्छ और हरा-भरा बनाने के लिए प्रयास करेंगे।

मनरेगा मेटो के मीडिया प्रभारी गौरव मटूरा ने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों की जानकारी और उपलब्धियों को गांव के लोगों और मीडिया के साथ साझा करेंगे। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों की फोटो और वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डालेंगे और गांव के लोगों की कहानियों को आगे बढ़ाएंगे।

 

मनरेगा मेटो के सह प्रभारी मीना राणा ने कहा कि वे मनरेगा मेटो के सदस्यों की सहायता और समर्थन करेंगी और उनके बीच समन्वय बनाए रखेंगी। उन्होंने कहा कि वे मनरेगा के कार्यों के लिए गांव के लोगों को प्रशिक्षण और मार्गदर्शन देंगी और उनकी योग्यता और कौशल को बढ़ाएंगी।

 

बैठक में उपस्थित ग्राम प्रधानों ने मनरेगा मेटो के नए नेतृत्व को बधाई दी और उनके साथ सहयोग का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि मनरेगा मेटो का गांव के विकास में महत्वपूर्ण योगदान है और वे उनके कार्यों को सराहना और प्रोत्साहन देंगे।

बैठक के अंत में, मनरेगा मेटो के अध्यक्ष प्रदीप सिंह रावत ने सभी को धन्यवाद दिया और उनसे मनरेगा के कार्यों में जुटने और गांव के विकास के लिए एकजुट होने का आग्रह किया।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *