haridwar
उत्‍तराखण्‍ड लेख हरिद्वार

haridwar news स्वामी विवेकानंद का 162वां जन्मोत्सव रोगी नारायण सेवा के रूप में मनाया गया,

स्वामी विवेकानंद के विचार हर युग में प्रासंगिक रहेंगे-स्वामी दयामूर्त्यानन्द

हरिद्वार
रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम कनखल में आज पंचांग तिथि के अनुसार स्वामी विवेकानंद का162वां जन्मोत्सव रोगी नारायण सेवा के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों में नारायण का रूप मानकर उनकी पूजा अर्चना की गई उनके माथे में तिलक लगाया गया और फल वितरित किए गए

मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम के सचिव स्वामी दयामूर्त्यानन्द महाराज ने कहा कि स्वामी विवेकानंद युगपुरुष थे। उन्होंने मानव कल्याण के लिए नर सेवा नारायण सेवा का जो मूल मंत्र दिया ,उसी अनुसार आज भी रामकृष्ण मिशन सेवाश्रम के देश-विदेश में स्थित सभी आश्रमों, चिकित्सालयों और सेवा संस्थानों में स्वामी विवेकानंद का जन्मदिन नर सेवा नारायण सेवा के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद के विचार हर युग में प्रासंगिक रहेंगे। स्वामी विवेकानंद आधुनिक भारत के युग निर्माता और युगपुरुष थे।

haridwar
इस अवसर पर स्वामी विवेकानंद पर शोध कार्य करने वाली लेखिका, विचारक, चिंतक डॉक्टर राधिका नागरथ ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने पूरे विश्व में भारत की एक नई पहचान प्रस्तुत की थी। स्वामी जी का शिकागो उद्बोधन पूरे विश्व को एक नई प्रेरणा दे गया और उसने लोगों को झकजोर दिया। उन्होंने कहा कि विश्व के वर्तमान माहौल में स्वामी जी के विचारों पर चलकर ही विश्व में शांति स्थापित की जा सकती है।दीप प्रवचलित कर कार्यक्रम का कार्यक्रम का शुभारंभ किया। सुनील मुखर्जी ने

 

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड चारधाम यात्रा- 2024 बसंत पंचमी पर घोषित होगी बदरीनाथ के कपाट खुलने की तिथि, शिवरात्रि पर केदारनाथ की

श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा के मुकामी महंत गुरमीत सिंह ने कहा कि भारत एक युवा देश है। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद के बताएं मार्ग पर सबको चलना चाहिए जब तक अपना उद्देश्य ना पूरा हो तब तक निरंतर अपने निर्धारित रास्ते पर चलते रहो।
कार्यक्रम का शुभारंभ सुबह ध्यान जप योग मंगल आरती संतो के प्रवचन भजन कीर्तन के साथ शुरू हुआ। स्वामी रामकृष्ण परमहंस और स्वामी विवेकानंद जी की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई ।

haridwar
स्वामी जगदीश महाराज ने श्रद्धालुओं को स्वामी विवेकानंद जी के जीवन परिचय से अवगत कराया।
इस अवसर पर स्वामी उमेश्वरानंद मंजू महाराज, स्वामी जगदीश महाराज, स्वामी निमई महाराज,

स्वामी देवाड्यानंद महाराज,स्वामी कमलाकांतानंद महाराज, स्वामी एकाश्रयानंद महाराज, स्वामी श्रीमोहनानंद महाराज, वरिष्ठ चिकित्सक डा. समरजीत चौधरी,डा वालिया, अरुण मेहता कमलेश शर्मा, डॉ दीपक, डा मधु शाह, एम्स ऋषिकेश से आई डॉक्टर अरुणिमा, डॉक्टर विनोद , नर्सिंग सुपरीटेंडेंट मिनी योहानन्न, गोकुल सिंह आदि मौजूद थे।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *